Home Search Register Login

Communicte by Fun....

Take Screenshot, Crop & Share image with Friends & Family
घर जमाई: आज से मैं रोटी


घर जमाई: आज से मैं रोटी
नहीं, चावल ही
खाऊंगा
.
सास: क्यो?
.
घर जमाई: मोहल्ले वालों के तानो से थक गया
हूँ कि मैं ससुराल में मुफ़्त की
रोटी तोड़ता हूँ

/99Chutkule

/99Chutkule

Facebook Twitter Google LinkedIn Email Print Reddit

<< Previous

Next >>