Home Search Forum Register Login

Take Screenshot, Crop & Share image with Friends & Family


किसी ने पूछा – भगवान दु:ख दूर करते हैं ?

साधु ने कहा -ना रे ! भगवान किसी का दुःख दूर नहीं करते !
यदि दुख ही दूर करना होता तो देते ही क्यों ?

फिर दुःख दूर कौन करता है ?

साधु बोले – भगवान का “नाम” दु:ख दूर करता है
उनके “स्मरण” में मन का “रमण” होने लगे
तो दुःख का मरण निश्चित है!!
💐💐

/99Chutkule

/99Chutkule

Facebook Twitter Google LinkedIn Email Print Reddit

<< Previous

Next >>